Representative-image-1-thesecularindia

मोजूदा कोरोना संकट के बीच मध्य प्रदेश में सियासी ड्रामा थमने का नाम ही नहीं ले रहा। कांग्रेस ने मध्य प्रदेश में 24 विधानसभा सीटों के उपचुनाव होने से पहले भारतीय जनता पार्टी के किले सेंद लगा दिया है। पार्टी के पूर्व सांसद प्रेमचंद गुड्डू अपने बेटे अजीत बोरासी के साथ कांग्रेस में शामिल हो गए।

उज्जैन से सांसद रहे प्रेमचंद गुड्डू ने ज्योतिरादित्य सिंधिया को भारतीय जनता पार्टी में शामिल किये जाने के बाद सिंधिया के खिलाफ मोर्चा खोल दिया था, जिसके बाद भारतीय जनता पार्टी ने उन्हें पार्टी से 6 साल के लिए निष्कासित कर दिया था।

कयास ये भी लगाए जा रहे हैं कि प्रदेश में होने वाले उपचुनाव में पूर्व सांसद प्रेमचंद गुड्डू मध्य प्रदेश की सांवेर सीट से उम्मीदवार हो सकते हैं। प्रेमचंद गुड्डू एक कद्दावर नेता हैं और उनका सांवेर और आसपास के इलाको में अच्छा दबदबा है।

बता दे की 2018 के विधानसभा चुनाव के ठीक पहले कांग्रेस का हाथ छोड़कर बीजेपी में शामिल हुए थे प्रेमचंद गुड्डू।

कांग्रेस में शामिल होने के बाद प्रेमचदं गुड्डू ने कहा कि ‘मैं आज कांग्रेस में घर वापसी पर में बहुत खुश हूं और सभी 24 विधानसभा सीटों पर कांग्रेस के पक्ष में चुनाव प्रचार करूंगा। पार्टी मुझे जो जिम्मेदारी देगी उसको निभाने का काम करूंगा।’

उपचुनाव से पहले प्रेमचंद गुड्डू के कांग्रेस में घर वापसी करने को बीजेपी के लिए एक बड़ा झटका माना जा रहा है। जानकारों की माने तो प्रेमचंद गुड्डू उपचुनाव में बीजेपी के खिलाफ बड़ा हथियार साबित हो सकते हैं। वे कम से कम 4 से 5 विधानसभा सीटों पर नतीजों को प्रभावित करने की क्षमता रखते हैं। वही प्रेम चन्द गुड्डू के कांग्रेस में शामिल हो जाने को लेकर राज्य की बीजेपी इकाई की तरफ से अभी कोई बयान नही आया हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here