Representative-image-2-thesecularindia

मध्य प्रदेश विधानसभा उप चुनावों को लेकर सरगर्मी अभी से तेज़ हो चुकी है प्रेम चंद्र गुड्डू के कांग्रेस में शामिल होने के बाद पार्टी एक और मास्टर स्ट्रोक दाव प्रशांत किशोर के रूप में खेलने को तैयार हैं। बता दे कि राज्य में सिंधिया समर्थक विधायकों के इस्तीफे के बाद मध्यप्रदेश की 24 विधानसभा सीटों में उपचुनाव (MP Assembly By-Elections 2020) होने हैं। महज डेढ़ साल में ही सत्ता खो देने से आहात कांग्रेस (Congress) की नैया पार लगाने और सत्ता वापसी की जिम्मेदारी प्रशांत किशोर (ipac) को देने की तैयारी की गई है। अगर सब सही रहा तो आगामी उपचुनावों में प्रशांत किशोर की टीम कांग्रेस के लिए मध्यप्रदेश में प्रचार प्रसार एवं रणनीति तय करेगी। इसके साथ ही कांग्रेस ने भाजपा और पूर्व केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया से इसका बदला लेने के लिए तैयारी शुरू कर दी है।

हालांकि, इसमें प्रशांत किशोर के नाम पर मुहर लगी है। भाजपा को घेरने के लिए कांग्रेस का वॉर रूम भोपाल में न होकर कांग्रेस छोड़कर भाजपा में शामिल हुए पूर्व केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया के गढ़ ग्वालियर में होगा। कांग्रेस सिंधिया समर्थक नेताओं के खिलाफ बेहद मजबूत प्रत्याशी उतारने की रणनीति भी बना रही है। गौरतलब है कि कांग्रेस से बगावत कर कई विधायक भाजपा में शामिल हो गए थे, जिससे उसकी सरकार गिर गई थी। इसके बाद भाजपा ने शिवराज के नेतृत्व में फिर सरकार बना ली थी।

इस बात की पुष्टि मध्य प्रदेश सरकार के पूर्व मंत्री और कांग्रेसी नेता पीसी शर्मा ने कहा, ‘प्रशांत किशोर की मदद कांग्रेस लेगी. उपचुनाव में कांग्रेस के लिए प्रशांत किशोर काम करेंगे. उन्होंने कहा कि सोशल मीडिया पर प्रशांत की मजबूत पकड़ है. 2018 में हमने इसी के दम पर बीजेपी को हराया था. बीजेपी की अल्पमत की सरकार है और उनकी गाड़ी धक्का प्लेट तक नहीं है.’ आगे उन्होंने कहा कि उपचुनाव में कमलनाथ ही कांग्रेस का चेहरा होंगे. कमलनाथ की अगुवाई में एक बार फिर मध्यप्रदेश में कांग्रेस सरकार बनाएगी. 24 सीटों में होने वाले उपचुनाव में हर सीट पर कांग्रेस के पास 20 से ज्यादा दावेदार हैं.

बता दें की प्रशांत किशोर चुनावा जीतने के लिए चुनावी मैनेजमेंट गुरू माने जाते है. चुनावी मैनेजमेंट गुरु प्रशांत किशोर लोकसभा और विधानसभा में पीएम नरेंद्र मोदी, अरविंद केजरीवाल और नीतीश कुमार के साथ काम कर चुके हैं और नतीजा सबके सामने है. कांगेस अब मध्यप्रदेश में 24 सीटों के लिए होने जा रहे उपचुनाव में प्रशांत किशोर का सहारा ले रही है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here