बीजेपी-के-बहाने-सचिन-पायलट-को-घेरने-में-लगे-अशोक-गहलोत-thesecularindia

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बीजेपी पर उनके विधायकों की ख़रीद फरोख्त का बड़ा आरोप लगाया हैं। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा ‘बीजेपी और इनके नेताओं ने तो मानवता और इंसानियत की सारी हदें तोड़ दी हैं। एक तरफ तो हम जीवन और आजीविका बचाने में लगे हुये हैं और दूसरी तरफ ये लोग सरकार गिराने में लगे हुये हैं। मुझे एवं मेरे साथियों को सरकार बचाने के लिये संघर्ष करना पड़ता है।

अशोक गहलोत ने बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा की ‘केन्द्र में सत्ता में आने के बाद बीजेपी घमंड एवं अहंकार में हैं इनकी फासिस्टी सोच है, लोकतंत्र में कोई यकीन नहीं है। ऐसे लोग सत्ता में बैठ गये हैं जो आज विभिन्न प्रदेशों में सत्ता को गिराने का काम कर रहे है।जिस रूप में इन्होंने जो खेल खेला है और खेल खेल रहे हैं, वो सबके सामने है।

राजस्थान में राज्यसभा चुनाव के वक़्त से ही सियासी ड्रामा तेज हैं। राज्यसभा चुनाव के वक़्त भी अशोक गहलोत ने बीजेपी पर चुनाव जितने के लिए विधायक ख़रीदने का आरोप लगाया था। गहलोत ने सचिन पायलट और ख़ेमे के विधायकों पर भी राज्यसभा चुनाव में सहयोग ना आरोप लगाया था। दरसअल जानकारों का मानना हैं की अशोक गहलोत और उनके समर्थक सचिन पायलट को प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष और डिप्टी सीएम पद से हटाना चाहते हैं। जिसकी मांग गहलोत दिल्ली में पार्टी हाईकमान के सामने रख सकते हैं।

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और डिप्टी सीएम सचिन पायलट के बीच आपसी विवाद कोई नई बात नहीं हैं। राजस्थान में कांग्रेस की सरकार बनने के बाद से ही कई मौकों पर दोनों के बीच आपसी विवाद देखने को मिला हैं। राजस्थान में कांग्रेस को जीत दिलाने में सचिन पायलट की बहुत बड़ी भूमिका रहीं थी। ज़िसके बाद से ही सचिन पायलट का मुख्यमंत्री बनना लगभग तय माना जा रहा था। पर अंत उन्हें प्रदेश अध्यक्ष और उप मुख्यमंत्री बनाया गया पर सचिन पायलट और उनके समर्थक इससे कतई ख़ुश नहीं थे।

पार्टी में चल रहें हाईवोल्टेज ड्रामे के बीच अशोक गहलोत ने तीन निर्दलीय और कुछ भाजपा नेताओं के खिलाफ़ शिक़ायत दर्ज़ कराई हैं जिसके बाद दो विधायकों को गिरफ्तार भी किया गया हैं। जिसके बाद गहलोत ने मुख्यमंत्री आवास पर सभी विधायकों मंत्रियों की बैठक बुलाई जिसमें पायलट और उनके खेमे के लगभग 10 से 15 विधायक शामिल नही हुए साथ ही सभी के फ़ोन भी बंद आ रहें हैं। बताया जा रहा हैं सचिन पायलट समेत सभी विधायक दिल्ली के एक होटल में हैं और जल्द ही पार्टी के शिर्ष नेतृत्व से भी मुलाकात कर सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here