Sanjay-Singh-File-Photo-thesecularindia

आम आदमी पार्टी (AAP) के नेता संजय सिंह (Sanjay Singh) के दिल्ली आवास पर मंगलवार की सुबह पर हमला हुआ। उन्होंने एक वीडियो जारी कर हमले का आरोप लगाया है। इसके लिए संजय सिंह ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पर निशाना साधा है। उनकी ओर से इस मामले में पुलिस में शिकायत दर्ज कराई गई है।

मंगलवार की सुबह दो लोग उनके आवास पर आए। संजय सिंह के खिलाफ नारेबाजी की। फिर आवास पर लगे नाम पत्र (Name plate) को काला कर दिया। AAP नेता का यह आवास 131, नॉर्थ एवेन्यू में स्थित है। जो कि राष्ट्रपति भवन से बहुत दूर नहीं है।

संजय सिंह ने एक वीडियो जारी कर कहा है कि “मैं एकदम साफ तौर पर कहना चाहता हूं भारतीय जनता पार्टी की सरकार से और उनके गुंडों से। आप जितने चाहे हमले करवा लो, चाहे मेरी हत्या करवा लो लेकिन मर्यादा पुरुषोत्तम श्रीराम के नाम पर बनने वाले मंदिर में अगर चंदा चोरी करोगे तो एक नहीं एक हजार बार बोलूंगा।” उन्होंने कहा कि यह “एक सौ पंद्रह करोड़ हिंदुओं का अपमान है ये उन करोड़ों रामभक्तों का अपमान है जिन्होंने अपना पेट काटकर प्रभु श्रीराम के मंदिर के लिए चंदा दिया।”

टाइम्स ऑफ इंडिया की एक खबर के मुताबिक पुलिस ने दो लोगों को इस मामले में गिरफ्तार किया है।

जमीन की खरीददारी में खेल:
गौरतलब है कि इन दिनों राम मंदिर निर्माण के लिए खरीदी गई एक जमीन को लेकर विवाद चला रहा है। राम मंदिर निर्माण का कार्य देख रहे ट्रस्ट और उसके महासचिव चंपत राय पर चंदा के पैसे में झोल करने के आरोप लग रहे हैं। यह विवाद तब शुरू हुआ जब समाजवादी पार्टी के नेता तेज नारायण पांडेय ने एक प्रेस कांफ्रेंस की। प्रेस कांफ्रेंस में उन्होंने राम मंदिर निर्माण के लिए खरीदी गई एक जमीन में 16.50 करोड़ रुपए के भ्रष्टाचार का आरोप लगाया।

हालांकि राम मंदिर निर्माण क्षेत्र ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय ने इस आरोप को सिरे से खारिज कर दिया है। उन्होंने इस आरोप को निराधार बताया है। लेकिन चंपत राय के जवाब में साक्ष्य और सबूत कम भावनाएं ज्यादा हैं। उन्होंने यह नहीं बताया कि सिर्फ पांच मिनट में एक जमीन की कीमत 2 करोड़ रुपए से 18.50 करोड़ कैसे हो गई?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here