Home ग्लोबल दिल्ली सरकार ने शुरू किया जहाँ वोट वही वैक्सीन की शुरुआत

दिल्ली सरकार ने शुरू किया जहाँ वोट वही वैक्सीन की शुरुआत

0
41
अपनी-नकाबिलियात-का-ज़िम्मा-अस्पतालों-पर-क्यों-दाल-रहें-हैं-केजरीवाल-thesecularindia

राजधानी दिल्ली में वैक्सीनेशन की रफ़्तार को गति देने के लिए अरविंद केजरीवाल ने सोमवार को ऐलान किया कि दिल्ली में 45 साल से अधिक की आयु के लोगो के लिए जहा वोट वही वैक्सीन अभियान शुरू किया जाएगा । अगर वैक्सीन निर्माता कंपनियों से प्रयाप्त मात्रा में वैक्सीन मिलती रहीं तो 4 हफ्तों में 45 साल से अधिक उम्र के सभी लोगों को वैक्सीन लगा दी जाएगी।

केजरीवाल ने कहा कि वैक्सीनेशन सेंटर पर ज्यादातर लोग नहीं आ रहे हैं। दिल्ली में बूथ स्तर पर वैक्सीन लगाने की तैयारी के तहत बूथ स्तर के अधिकारियों (बीएलओ) की एक टीम ट्रेनेड किया जाएगा जो अगले 2 दिनों में हर घर का दौरा करेगी और सभी लोग जिन्हें टिका नही लगा है उन्हें टीकाकरण के लिए एक स्लॉट पबुक कर करेगी। साथ ही जो लोग टिका नहीं लगवाना चाहते बीएलओ उन लोगो को टिका लगवाने के लिए भी राजी करेंगे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि इस अभियान के माध्यम से हम सभी लोगों के घर-घर जाएंगे और उन्हें बताएंगे कि के आपके मतदान केंद्र पर ही आपके वैक्सीनेशन का इंतजाम किया हुआ है आप वहीं जा कर वैक्सीन लगवा सकते है। दिल्ली में आज से 70 वार्ड में ये अभियान शुरू किया जाएगा और 4 हफ्ते में सभी 280 वार्ड में अभियान में शुरू करने की तैयारी है।

जिन 70 वार्ड में ये अभियान आज से शुरू किया जा रहा है वहां के सभी बूथ लेवल ऑफिसर(BLO) को आज ही ट्रेनिंग दी जा रही है। ये BLO अगले 2 दिन हर घर में जाकर जानकारी लेंगे कि क्या वहा 45 की आयु से अधिक के सभी लोगो की वैक्सीन लग चुकी है अगर नही तो वह उन्हें वैक्सीनेशन के लिए स्लॉट भी बुक कर के देंगे।

दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (डीडीएमए) ने स्वास्थ्य और राजस्व विभागों के सभी वरिष्ठ अधिकारियों और जिलाधिकारियों से सरकार के आदेशों का पालन सही तरीक़े से हो इसलियें व्यवस्था के निरक्षण करने का आदेश भी दिया है। आदेश में कहा गया है कि डीडीएमए निर्देश देता है कि कोवैक्सीन के लिए कोविड टीकाकरण केंद्रों के रूप में कार्य करने वाले सभी निजी अस्पताल और नर्सिंग होम यह सुनिश्चित करेंगे कि जून या अगले आदेश तक कोवैक्सीन का उपयोग केवल उन लोगों (18-44 वर्ष की आयु) के टीकाकरण के लिए किया जाएगा, जो इस दौरान टीकाकरण की दूसरी खुराक लेने के पात्र हैं।

आदेश के मुताबिक, यदि कोई भी प्राइवेट अस्पताल सरकार द्वारा जारीनिर्देशों का उल्लंघन करते हुए पाया गया तो उसके खिलाफ आपदा प्रबंधन अधिनियम, भारतीय दंड संहिता, महामारी अधिनियम और अन्य लागू कानूनों के प्रावधानों के अनुसार कार्रवाई की जाएगी।

वहीं 18 से अधिक आयु वाले लोगो के लिए अभी कोई भी निर्णय नहीं लिया गया है साथ ही दिल्ली सरकार ने सभी प्राइवेट नर्सिंग होम को 18 से अधिक आयु के लिए सिर्फ़ दूसरी डोज ही लगाने की अनुमति नही होगी।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here