सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर अफवाहों का फॉरवर्ड होने कोई पुरानी बात नही पर हद तो तब हो गई जब भारतीय फिल्मजगत के दिग्गज अभिनेता दिलीप कुमार के मृत्यु की अफवाह उड़ने लगी । व्हाट्सएप और अन्य सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर दिलीप कुमार को कुछ लोगों ने अलविदा कह उन्हें श्रद्धांजलि तक दे डाली। झूठी अफवाहों को फैलाने वालों से दिग्गज कलाकार दिलीप कुमार भी नहीं बचे। जीते जी मृत्यु से पहले ही उन्हें श्रद्धांजलि दे दी गई। लेकिन चिकित्सकों की देखरेख और उनके चाहने वालों की दुआओं की बदौलत वो अब भी जीवित हैं।

इंटरनेट पर फॉरवर्ड मैसेज की रफ्तार हवा की तरह ही होती है। देखते ही देखते लाखों लोग एक ही बात साझा करने लगते हैं। सबसे पहले शेयर करने की जल्दी में ज्यादातर लोग फॉरवर्ड मैसेज के दावों को परखना छोड़ देते हैं। यही वजह है कि भारत के पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के भी निधन की अफवाह उड़ी। अब दिलीप कुमार को लेकर ये झूठ की बयार बह चली थी।

दिलीप कुमार के आधिकारिक ट्विटर हैंडल से इसे लेकर रविवार शाम सात बजे एक ट्वीट भी किया गया। इसमें लिखा गया है कि “व्हाट्सएप फॉरवर्ड पर भरोसा ना करें। दिलीप साब ठीक हैं। आपकी दुआओं और प्रार्थनाओं के लिए धन्यवाद।”

इस ट्वीट के माध्यम से यह भी बताया गया है कि अगले 2 से 3 दिन में दिलीप कुमार अपने घर लौट आएंगे। अगर सब ठीक रहा तब।

दरअसल दिलीप कुमार को सांस लेने में तकलीफ़ के चलते उन्हें PD Hinduja Hospital में भर्ती कराया गया था। उन्हें सांस लेने में तकलीफ हो रही थी। चिकित्सकों

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here