Indian-Army-thesecularindia

भारत और चीन के सैनिकों के बीच सोमवार को हुई हिंसक झड़प में भारत के 20 जवान शहीद हो गए वहीं चार जवानों की हालात गंभीर हैं। जवाबी कार्यवाही में भारतीय सेना ने भी 40 से ज्यादा चीनी सैनिकों को मार गिराया हैं।
जिसमें चीनी सेना की यूनिट का कमांडिंग अफ़सर भी शामिल हैं।

भारत और चीन के बीच काफ़ी लंबे वक़्त से सीमा को लेकर विवाद चल रहा हैं। जिसे सुलझाने की लिए पिछले कुछ दिनों में काफ़ी बार अधिकारी स्तर की बातचीत की जा रही रहीं। जिसके बाद चीन की सेना पिछे हटने को भी तैयार हो गयी थी। सोमवार को भी करनल बी संतोष बाबू हर रोज़ की तरहअपनी टीम के साथ बातचीत करने गए थे। जहाँ चीनी सेना ने धोखे से भारतीय सेना पर हमला कर दिया था। जिसके बाद भारतीय सेना ने भी चीनी सेना को मुतोड़ जवाब दिया और 40 चीनी जवानों को मार गिराया।

गलवान वैली में हुई हिंसक झड़प के बाद राजधानी दिल्ली में भी बैठकों का सिलसिला भो शुरू हो गया हैं। कल रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने विदेश मंत्री एस जयशंकर चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ बिपन रावत सहित तीनों सेनाओं के प्रमुखों के साथ बैठक की। देर शयम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह गृहमंत्री अमित शाह विदेश मंत्री चीफ ऑफ डिफेंस के साथ बैठक की।

चीन की इस कायराना हरक़त के बाद पूरे देश में रोष का माहौल हैं। कई राज्यों में चीन के खिलाफ़ प्रदर्शन कर लोगों ने सरकार से सख्त कारवाई की मांग की हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here